कोई मृदा नहीं, कोई कीटनाशक नहीं फिर भी सब्जी के पौधे उगाये

कोई मृदा नहीं, कोई कीटनाशक नहीं फिर भी सब्जी के पौधे उगाये

हम में से कितने जानते हैं कि हमारा खाना कहां से आता है? एक समय जहां किराने की दुकान से हम जो कुछ भी चुनते हैं, वह कीटनाशकों से भरा हुआ है, अपना खुद का भोजन बढ़ाना स्वास्थ्य जोखिमों को कम करने में मदद कर सकता है और यह भी सुनिश्चित करता है कि हमारे बच्चों को अपना भोजन अपने सबसे ताज़ी रूप में प्राप्त हो।

किसान एसोसिएशन का कहना है कि 201 9 में बीजेपी के…

कोई मृदा नहीं, कोई कीटनाशक नहीं फिर भी सब्जी के पौधे उगाये
कोई मृदा नहीं, कोई कीटनाशक नहीं फिर भी सब्जी के पौधे उगाये

रुद्रुप आठवीं कक्षा में थे जब उनके पिता, एक मैकेनिकल इंजीनियर, हाइड्रोपोनिक्स पर लाइब्रेरी बुक के साथ घर आए थे, भारत के शहरी किसानों ने कृषि पद्धति के साथ प्रयोग करना शुरू कर दिया था।

ऐसा लगता है कि युवा लड़के के लिए एक अलग दुनिया बन गयी थी। मिट्टी के बर्तनों के साथ सशस्त्र, पिता-पुत्र दोनों ने एक प्रयोगशाला में वैज्ञानिकों जैसे पोषक तत्वों को स्वीकार किया और मिट्टी के बिना विभिन्न पत्तेदार सब्जियों को जन्म दिया।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *